मैं महाराष्ट्र के लोगों को बचाने के लिए किसी भी स्तर पर जाऊंगा

मैं महाराष्ट्र के लोगों को बचाने के लिए किसी भी स्तर पर जाऊंगा-मुख्यमंत्री ठाकरे

महाराष्ट्र के लोगों को धोखा मत दो – मुख्यमंत्री ठाकरे I will go to any level to save the people of Maharashtra– अपनी जाति और धर्म कोई भी हो उसके के बावजूद, वायरस एक ही है। हम कोरोना से लड़ रहे हैं। महाराष्ट्र के एकी को धोखा मत दो। अनुशासन का पालन करें, सहयोग करें। मैं समाज में नफरत बनने वाले वायरस को छोडूंगा नही। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने आज चेतावनी दी कि मैं महाराष्ट्र के लोगों को बचाने के लिए किसी भी स्तर पर जाऊंगा।

वह सोशल मीडिया पर एक लाइव प्रसारण के माध्यम से जनता के साथ बातचीत करते हुए बोल रहे थे। हर कोई कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में मदद कर रहा है। लेकिन एक और वायरस सामने आ रहा है। वह समाज में डर फैलाने की कोशिश कर रहा है। मैं महाराष्ट्र के लोगों को कोरोना से बचाऊंगा। लेकिन ऐसे डर फ़ैलाने वाले वायरस को मैं नही छोडूंगा। ठाकरे ने कहा, “मैं महाराष्ट्र के लोगों को बचाने के लिए किसी भी स्तर पर जाऊंगा।”

मैं महाराष्ट्र के लोगों को बचाने के लिए किसी भी स्तर पर जाऊंगा-मुख्यमंत्री ठाकरे

 

I will go to any level to save the people of Maharashtra – कोरोना की इस लड़ाई में कुछ वीकृत, समाज में एक डर पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं। कुछ फेक वीडियो भेजकर यह कोशिश कर रहे हैं। उनकी गलती माफ नहीं होगी। महाराष्ट्र के एकि को धोखा मत दो। ठाकरे ने अनुशासित रहने और सहयोग करने की भी अपील की।

जैसे मेरा मुझपर विश्वास है वैसे ही आप पर भी मेरा विशवास है। केवल आत्मविश्वास से ही यह लड़ाई जीती जा सकती है। कोरोना आपकी परीक्षा ले रहा है। ठाकरे ने कहा कि जिनका धैर्य खो गया वो हर गया। जिन लोगों की मृत्यु कोरोनस से हुई है, उनमें आसाध्य रोगियों, बुजुर्गों की संख्या अधिक है।

यह भी पढ़े: PM MODI ने चेतावणी दी की दीप जलाते वक्त भूलकर भी न करे ये गलती 

चूंकि हम कोरोना लड़ से रहे हैं, इसलिए अगली सूचना तक महाराष्ट्र में कोई भी धार्मिक, सामाजिक, खेल आयोजन नहीं होंगे। सभी धार्मिक लोगों को अपने त्योहारों को घर पर मनाना चाहिए। जैसा कि मुंबई पे बाकी दुनिया का ध्यान है, वैसे ही वायरस का मुंबई पे ध्यान है। लेकिन यह मुंबई है। शहर में कई झटके, दुर्घटनाएं हुई हैं। इस शहर की वीरता हमेशा अविश्वसनीय रही है। एकजुटता और जिद इस शहर की स्थायी स्थिरता है। इसलिए, ठाकरे का मानना ​​है कि कोरोना वायरस मुंबई को खराब नहीं करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *